Jun 9, 2016

बरेली-कासगंज के बीच बढ़ेंगी ट्रेन

जागरण संवाददाता, बरेली: पूर्वोत्तर रेलवे(एनईआर) की ट्रेन जल्द अपने ट्रैक पर दौड़ेंगी। रेलवे बोर्ड ने बरेली जंक्शन-रामगंगा स्टेशन के बीच नॉन इंटरलॉकिंग (एनआइ) को हरी झंडी दे दी है। यह काम 10 जून से शुरू होगा। इसके साथ ही ट्रैक पर ट्रेनों का संचालन बढ़ जाएगा।

एनईआर का बरेली-कासगंज ट्रैक मीटरगेज से ब्राडगेज में तब्दील हो चुका है। इसमें रामगंगा-बरेली जंक्शन की एनआइ लटकी थी। एनईआर की ट्रेन उत्तर रेलवे के बरेली जंक्शन की रेल पटरियों से गुजारा जा रहा है। मात्र दो पैसेंजर और एक एक्सप्रेस ट्रेन चलाई जा रही है। यहां यात्री संख्या अधिक होने के कारण ज्यादा ट्रेन की जरूरत है। एनईआर ने ट्रेन बढ़ाने की कोशिश की। एनआर ने व्यस्त रूट के चलते एनईआर को ट्रेन चलाने से रोक दिया। एनआइ का इंतजार किया जा रहा था। अब एनआइ को हरी झंडी मिल गई है। यह काम 10 जून से शुरू होगा। दो-तीन दिन में ही काम पूरा होने की उम्मीद है। इसके बाद एनईआर की ट्रेन अपनी रेल पटरी से गुजरेंगी। अपनी पटरियों से ट्रेन संचालन शुरू होने के बाद बरेली-कासगंज के बीच एक्सप्रेस-पैसेंजर ट्रेन की संख्या बढ़ाई जाएगी। इसके साथ ही कासगंज रूट की ट्रेन रफ्तार भी बढ़ेगी।

एक ही पुल से गुजरेंगी ट्रेन

रामगंगा स्टेशन से एनईआर के पुराने रेल पुल से गुजरना होगा। एनईआर ने अपना पुल नहीं बनाया है। उम्र गुजार चुके पुल से एनआर-एनईआर की ट्रेन गुजरती रहेंगी।

डीआरएम ने किया निरीक्षण

इज्जतनगर रेल मंडल के डीआरएम निखिल पांडे ने एनआइ से पहले बुधवार सुबह बरेली-रामगंगा के बीच निरीक्षण किया। यहां एनआइ को लेकर दिशा-निर्देश दिए। इसके बाद कासगंज को रवाना हो गए।

--------

एनआइ का काम 10 जून से शुरू हो जाएगा। काम पूरा होने के बाद ट्रेन बढ़ेंगी। इसके साथ ही ट्रेनों की रफ्तार में इजाफा होगा।

SOURCE - JAGARAN