Feb 5, 2017

कबाड़ से बनाई ऐसी डिवाइस, पटरी टूटने पर भी नहीं होगा Rail एक्सीडेंट

यूपी के वाराणसी जिले के 3 दोस्तों ने एक ऐसी डिवाइस बनाई है, जिससे ट्रेन एक्सीडेंट को रोका जा सकता है।

वाराणसी. यूपी के वाराणसी जिले में 3 दोस्तों ने मिलकर एक ऐसा डिवाइस तैयार किया है, जिससे ट्रेन हादसों को रोका जा सकता है। इस डिवाइस को एक्सीडेंट फ्री ट्रेन नाम दिया है। dainikbhaskar.com ने इन छात्रों से बातचीत करके डिवाइस की खासियत को जानने की कोशिश की।
कैसे आया डिवाइस बनाने का ख्याल

- सारनाथ के प्राइवेट इंस्टीट्यूट में मैकेनिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे ऋषिकेश, शिवम और उज्जवल ने 30 दिनों में एक डिवाइस तैयार किया हैं।
- ऋषिकेश ने बताया- कानपुर में हाल में हुए रेल हादसे ने हमें अंदर से झकझोर दिया था।
- जिसके बाद से हमारे मन में बस एक ही सवाला था कि आखिर ये एक्सीडेंट क्यों होते हैं।
- कुछ वजहें सामने आने के बाद उसके सॉल्यूशन के बारे में सोचा, तो इस डिवाइस का आइडिया आया।
- चांदमनी (हेड प्रोफ़ेसर इंजीनियरिंग कॉलेज) ने बताया छात्रों के इस प्रोजेक्ट को वो केंद्र सरकार तक ले जाने की कोशिश करेंगे।

डिवाइस ऐसे रोकेगी ट्रेन एक्सीडेंट

- ऋषिकेश ने बताया- यह डिवाइस एक सेंसर के रूप में काम करेगी, जोकि ट्रेन के इंजन में पायलट के पास होगी।
- ट्रेन के व्हील और पटरियों में अर्थ कनेक्टिविटी होती है। डिवाइस पटरियों और व्हील के अर्थ कनेक्टिविटी से जुड़ा होगा।
- अगर कहीं पटरी ब्रेक होगी तो अर्थ कनेक्टिविटी टूट जाएगी और सेंसर ट्रेन के ड्राइवर को सिग्नल दे देगा।
- इससे ड्राइवर 200 मीटर पहले ही ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोक सकता है।
- अभी हमारा पूरा सिस्टम लैपटॉप से ऑपरेट हो रहा, बाद में इसे वायरलेस करने की कोशिश है।
- इसके अलावा डिवाइस दूसरे एंटी फोग डिवाइस के मुकाबले बेहद सस्ती और मेक इन इंडिया के तर्ज पर बनाई गई है।
- उज्जवल ने बताया- कबाड़ से टिन और एल्युमुनियम सीट लेकर बाकायदा एक डमी रेल इंजन बनाया है, जिसपर इसे टेस्ट किया गया है।

जानें डिवाइस को बनाने में क्या-क्या किया यूज और कितना आया खर्च

शिवम ने बताया- डिवाइस को बनाने में यूज कया गया काफी सामान कबाड़ या फिर इलेक्ट्रानिक की दुकान पर आसानी से मिल जाता है। इसके बनाने कुल 4,500 रुपए का खर्च आया। डिवाइस में यूज होने वाले सामान इस प्रकार हैं- सेंसर किट, ब्रेकिंग सर्किट, DC मोटर रिले सर्किट, एल्मुनियम ट्रैक, जीआर शीट, 6 वोल्ट का ट्रांसफार्मर, रिले -6 वोल्ट, डाइबोर्ड ट्रांजिस्टर, आईसी, चार्जेबल बैटरी -6 बैटरी, इंडीकेटर, मोटर गेयर -30 आरपीएम। 
Source - Bhaskar