Jul 1, 2017

छिंदवाड़ा होगा ब्राडगेज का सबसे बड़ा जंक्शन

4 मेन और 2 सब-प्लेटफार्म का काम जोरों पर
प्रदेश टुडे संवाददाता,जबलपुर : 
गोंदिया तक हो रहे आमान परिवर्तन में ब्राडगेज लाइन पर  छिंदवाड़ा सबसे बड़ा जंक्शन होगा। यहां से एमपी, यूपी, बिहार, साउथ और महाराष्ट्र के  लिये सीधी टेÑन यात्रियों को मिलेगी। बड़े जंक्शन होने के नाते वहां पर एसईसीआर द्वारा 4 बड़े और 2 सब प्लेटफार्म बनाने का काम जोर-शोर से चल रहा है जिसके दिसंबर तक पूरे होने की संभावना है।
जानकारी के मुताबिक दक्षिण पूर्व मध्य रेल नागपुर मंडल अंतर्गत कछपुरा-गोंदिया के बीच नैनपुर और छिंदवाड़ा ब्राडगेज के दो बड़े जंक्शन तैयार किये जा रहे हैं, यहां से यात्रियों को पूर्व, पश्चिम, उत्तर, दक्षिण के लिये सीधी टेÑन सुविधा मिलेगी। जबलपुर से महाराष्ट्र और दक्षिण की तरफ जाने वाली टेÑनें इन दोनों जंक्शन से होकर जाएंगी। इसके बाद नागपुर को जोड़ने का कार्य तीग्र गति से किया जा रहा है। 120 किलोमीटर के इस कार्य को दिसंबर तक पूरा करने का लक्ष्य एसईसीआर ने रखा है। कार्य पूरा होते ही छिंदवाड़ा और आस-पास के नागरिकों को छिंदवाड़ा से नागपुर, मुम्बई, बैंगलोर, पूणे आदि जगह के लिये सीधी रेल सुविधा मिल जायेगी।
बताया जाता है कि वर्तमान में छिंदवाड़ा से परासिया, इंदौर, आमला, बैतूल, नवेगांव और नई दिल्ली तक के लिये यात्रियों को ब्राडगेज का लाभ काफी समय से मिल रहा है।

दिसंबर तक पूरा होगा छिंदवाड़ा-लिंगा टैÑक
छिंदवाड़ा से भंडारकुंड, उमारनाला और लिंगा तक 35 किलोमीटर टैÑक का कार्य भी जोर-शोर से किया जा रहा है। दिसंबर तक इसके पूरे होने की संभावना है।

नैनपुर से बालाघाट 2018 तक
बताया जाता है कि एसईसीआर की समय-सीमा के मुताबिक नैनपुर-बालाघाट के बीच ब्राडगेज कार्य वर्ष 2018 तक पूरा करने का टारगेट रखा गया है। इस समय के दौरान कार्य पूरा हो सकेगा यह कहा नहीं जा सकता। करण है कि इस रूट पर वन विभाग का पचड़ा अभी सुलझा नहीं है जिससे ब्राडगेज कार्य की शुुरुआत अब तक नहीं हो सकी।
Source - Pradesh today