Apr 16, 2018

राष्ट्रमंडल खेलों में रेलवे का जलवा, अकेले ही किया 15 पदकों पर कब्जा


राष्ट्रमंडल खेलों में सभी भारतीय खिलाड़ी अपना जलवा बिखेर रहे हैं। देश के हिस्से में अब तक कुल 66 पदक आ चुके हैं, जिसमें भारतीय रेल के खिलाड़ियों का भी बहुत महत्त्वपूर्ण योगदान है। रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड (आरएसपीबी) के एथलीटों ने अब तक 15 पदक दिलाए हैं और ये सिलसिला लगातार जारी है।

भारत के लिए खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन गर्व का विषय तो है ही, साथ ही रेलवे के लिए अपने खिलाड़ियों का जोरदार प्रदर्शन दोहरी खुशी का कारण बन रहा है। अकेले आरएसपीबी के खिलाड़ियों ने भारत के हिस्से में आए सोने के पदकों का 40 प्रतिशत हिस्सा अर्जित किया है।

कुश्ती में 100% स्ट्राइक रेट 

कुश्ती में भारतीय रेलवे के पहलवानों ने 100% का स्ट्राइक रेट देकर नया कीर्तिमान हासिल किया है। कुश्ती में रेलवे के 7 पहलवान भारतीय टीम का एक हिस्सा बने थे और इनमें हर एक ने भारत को 1 पदक जिताया है। सुशील कुमार, राहुल अवेयर, सुमित मलिक, बजरंग और विनेश ने स्वर्ण पदक जीतकर देश का गौरव बढ़ाया, तो वहीं साक्षी मलिक और किरण ने कास्य पदक जीतकर देश को ख्याति दिलाई।

वेटलिफ्टिंग और मुक्केबाजी में भी शानदार प्रदर्शन

वेटलिफ्टिंग और मुक्केबाजी में भी रेलवे खिलाड़ियों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है। वेटलिफ्टिंग में 10 में से 6 खिलाड़ियों ने पदक जीते तो वहीं मुक्केबाजी में रेलवे के मनोज कुमार ने कास्य पदक जीता। डिस्कस थ्रो में भी रेलवे के ही नवजीत ढिल्लों ने शानदार प्रदर्शन कर एक कास्य पदक जीता। 

आरएसपीबी की वाहवाही

खिलाड़ियों के शानदार प्रदर्शन के बाद आरएसपीबी की खूब वाह-वाही हो रही है। अंतर्राष्ट्रीय खेलों में महिलाओं को बढ़ावा देने के लिए भी आरएसपीबी की जमकर सराहना की जा रही है। 66 पदकों में रेलवे के खिलाड़ियों ने 10 स्वर्ण, 1 रजत और 4 कास्य पदक जीते हैं, जो देश के लिए भी गर्व का विषय है।

Source - Hindi India

Translate in your language

M 1

Followers