Jun 9, 2018

ट्रेन में जारी रहेगी ठेलम-ठेली, रेलवे ने वापस लिया यह बड़ा फैसला



भारतीय रेल ने अपने उस फैसले को वापस ले लिया है, जिसमें कहा गया था दि अब ट्रेन में तय किए गए भार से अधिक सामान ले जाने पर यात्रियों को जुर्माना देना होगा. रेलवे के आदेश के अनुसार तय भार से अधिक सामान ले जाने वाले यात्रियों को छह गुणा ज्यादा जुर्माना देना होगा. हालांकि अब रेलवे ने इस फैसले को महज जागरुकता करार दिया है. रेलवे के इस फैसले को लेकर रेल मंत्रालय के प्रवक्ता राजेश बाजपेयी के हवाले से बताया जाता है कि ये अभियान सिर्फ लोगों को इस बात की जानकारी देने के लए चलाया गया था कि ज्यादा सामान ले जाने से अन्य यात्रियों को काफी परेशानी होती है.

आपको बता दें कि इससे पहले रेलवे ने तय किया था कि 1 जून से 6 जून तक अभियान चलाकर तय किए गए मानक से अतिरिक्त सामान ले जाने पर जुर्माने लगाया लगाया जाएगा. रेलवे के अनुसार बिना बुकिंग कराए तय भार से ज्यादा सामान ले जाने वाले यात्रियों से छह गुना जुर्माना वसूल किया जाएगा. रेलवे इस फैसले के बाद कुछ लोगो काफी प्रसन्न हुए थे, जिन्हें ट्रेन में सामान के कारण कभी न कभी भारी परेशानियों से गुजरना पड़ा है, वहीं काफी संख्या में लोगों ने रेलवे के इस फैसले का विरोध भी किया.

जिसके बाद अब रेलवे ने इस फैसले को वापस ले लिया है. फैसले का असर! रेलवे के इस फैसले के वापस लिए जाने का सीधा मतलब है कि दूसरे यात्रियों को परेशानी हो या न हो अगर आप में क्षमता है तो आप अपने घर का सारा सामन ट्रेन की बोगियों में ठूस सकते हैं. रेलवे के इस फैसले को ऐसे भी समझा जा सकता है कि ट्रेन में ठेलम-ठेली जारी रहेगी.

अगर हमारी बातों पर यकीन नहीं तो आप कभी ट्रेन के जनरल बोगी या स्लीपर बोगी में झांक कर देखिए. यहां यात्रियों और सामान की इतनी भीड़ होती है कि अगर किसी को बाथरूम आ गई और वो ट्रेन में बने टॉयलेट तक पहुंच गया तो मानो उसने जंग जीत ली हो, लेकिन यहां भी उसकी परेशानी खत्म नहीं होती क्योंकि ट्रेन के टॉयलेट में ठूस-ठूस कर सामान भरा होता है. हालांकि ऐसा नियम नहीं है कि आप ट्रेन के टॉलेट में सामान ठूस सकते हैं, लेकिन जब बोगियों में जगह बची नहीं है और यात्रियों के पास सामान कम नहीं हो रहे तो टॉयलेट में सामान ठूसने के अलावा कोई दूसरा रास्ता भी नहीं सूझता!

Source - Pal - Pal News 

Translate in your language

M 1

Followers