Jun 6, 2019

ट्रेनों को मिले नए स्टॉपेज की होगी समीक्षा, 67 ट्रेनों के ठहराव में हो सकता है बदलाव

ट्रेनों को मिले नए स्टॉपेज की होगी समीक्षा, 67 ट्रेनों के ठहराव में हो सकता है बदलाव

लोकसभा चुनाव के पूर्व ट्रेनों को विभिन्न स्टेशनों पर मिले स्टॉपेज खत्म हो सकते हैं। उत्तर रेलवे पिछले पांच सालों में जिन स्टेशनों पर ट्रेनों का अतिरिक्त स्टॉपेज दिया गया है उसकी एक बार फिर से समीक्षा कर रहा है।


इस बाबत उत्तर रेलवे की तरफ से पांचों रेल मंडल को एक पत्र जारी किया गया है, जिसमें यह आदेश दिया गया है कि जिन स्टेशनों पर ज्यादा यात्री नहीं है और कमाई नहीं होती है उसकी सूची तैयार की जाए।
बेशक रेलवे में पत्र में पांच साल का जिक्र किया है, लेकिन जिन ट्रेनों की सूची तैयार की गई उसमें वैसी ट्रेनें ज्यादा है जिसे 2019 में स्टॉपेज दिया गया है। यात्रियों की मांग पर रेलवे समय-समय पर ट्रेनों को स्टॉपेज देने का काम करती है।
चुनाव पूर्व रेलवे ने कई ट्रेनों को नया स्टॉपेज दिया था। जनवरी 2019 से 8 मार्च 2019 के बीच करीब 200 से ज्यादा ट्रेनों को नया स्टॉपेज मिला था। उत्तर रेलवे के मुख्य पैसेंजर ट्रांसपोर्ट मैनेजर (सीपीटीएम) की तरफ से जारी पत्र में कहा गया है कि समय पालन व रफ्तार बढ़ाने के लिए ट्रेनों के स्टॉपेज का रिव्यू किया जाए।
सीपीटीएम की तरफ से 67 ट्रेनों की सूची पांचों रेल मंडल को दी गई है। रेलवे अधिकारी इसे राजनीति से प्रभावित नहीं बता रहे हैं। उनका कहना है कि रेलवे की यह नियमित प्रक्रिया है।
Source - Amar Ujala

Translate in your language

M 1

Followers