Sep 16, 2020

जयपुर के पुराने शहर गुलाबी नगरी में मेट्रो का इंतजार खत्म हो गया है

 जयपुर के पुराने शहर गुलाबी नगरी में मेट्रो का इंतजार खत्म हो गया है. राजस्थान सरकार ने ऐलान कर दिया है कि 23 सितंबर से शहर के परकोटे के अंदर मेट्रो ट्रेन दौड़ेगी. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 23 सितंबर को दिन में 12:00 बजे इसका वर्चुअल उद्घाटन करेंगे.

इसके बाद मेट्रो ट्रेन बड़ी चौपड़ से मानसरोवर स्टेशन के लिए रवाना होगी. जयपुर के पुराने शहर के अंदर मेट्रो ट्रेन भूमिगत बनाई गई है. इसका उद्घाटन पहले ही होना था मगर कोरोना की वजह से टलते जा रहा था. 

इसे जयपुर मेट्रो फेज वन बी के नाम से जाना जाता है. इस प्रोजेक्ट का काम मार्च 2014 में शुरू हुआ था और मार्च 2018 में इसे पूरा होना था. मगर ये प्रोजेक्ट ढाई साल बाद पूरा हो पाया है. इस मेट्रो के निर्माण में 1126 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं. 

पहले जयपुर मेट्रो मानसरोवर स्टेशन से लेकर चांदपोल तक चलती थी मगर अब चांदपोल से लेकर बड़ी चौपड़ तक भी जाएगी. माना जा रहा है कि अभी तक मेट्रो में यात्री क्षमता 21000 यात्री प्रतिदिन थे मगर अब पुराने शहर के अंदर जाने के बाद इसकी यात्री क्षमता बढ़कर 45000 यात्री प्रतिदिन तक हो जाएगी.

पुराने शहर में दो मेट्रो स्टेशन भूमिगत बनाए गए हैं. चांदपोल से लेकर बड़ी चौपड़ के बीच का किराया 6 रुपया रखा गया है. बड़ी चौपड़ से लेकर मानसरोवर के बीच का किराया 22 रुपये रखा गया है. जयपुर मेट्रो ट्रेन 26 मिनट में 11.3 किलोमीटर का सफर तय करेगी. 

जयपुर मेट्रो ने कहा है कि उद्घाटन के सारे समारोह वर्चुअल होंगे इसलिए कोई भी नेता अगर उद्घाटन में शामिल होना चाहता है तो मेट्रो स्टेशन के बजाय मानसरोवर में जयपुर मेट्रो के दफ्तर में आकर या फिर वहां से वर्चुअल जुड़कर उद्घाटन समारोह में हिस्सा ले सकता है. 

बता दें कि आने वाले दिनों में जयपुर में शहरी निकाय के चुनाव होने हैं लिहाजा राजस्थान सरकार चाहती है कि जल्दी से जल्दी जयपुर मेट्रो के पुराने शहर के भाग वन बी मेट्रो को ऑपरेशनल कर दिया जाए.

- aajta

No comments:

Follow by Email

Followers ( You may also follow)