Oct 22, 2017

मध्य रेल्वे उशिराने; प्रवाशांना मनस्ताप

मध्य रेल्वे उशिराने; प्रवाशांना मनस्ताप

वांगणी-शेलू स्थानकांदरम्यान सकाळच्या सुमारास रुळाला तडा गेल्यानं विस्कळीत झालेली मध्य रेल्वेची वाहतूक दुरुस्तीच्या कामानंतरही अद्याप रुळावर आलीच नाही. मध्य रेल्वेवरील लोकल उशिरानं धावत आहेत. त्यामुळं भाऊबीजेसाठी घराबाहेर पडलेल्या उपनगरांतील प्रवाशांना मनस्ताप सहन करावा लागत आहे.

गेल्या काही दिवसांपासून विविध कारणांमुळं मध्य रेल्वेवरील कोलमडलेली लोकलसेवा आज भाऊबीजेच्या दिवशीही विस्कळीत झाली. सकाळीच वांगणी-शेलू या दोन स्थानकांदरम्यान रेल्वे रुळाला तडा गेला. त्यामुळं कर्जत-पुण्याकडं जाणारी वाहतूक विस्कळीत झाली होती. भाऊबीजेच्या दिवशी मोठ्या संख्येने घराबाहेर पडलेल्या प्रवाशांना त्रास सहन करावा लागला. मध्य रेल्वेच्या जलद आणि धीम्या मार्गावरील लोकलसेवा अद्यापही सुमारे अर्धा तासाने उशिराने धावत आहेत. मध्य रेल्वेवरील स्थानकांवर प्रवाशांना लोकलची वाट पाहत बसावे लागत आहे. लोकल उशिरानं धावत असल्याची उद्घोषणा रेल्वे प्रशासनाकडून करण्यात येत असली तरी त्याचं कारण सांगितलं जात नाही. त्यामुळं प्रवाशांमध्ये संभ्रम आहे. मध्य रेल्वेच्या उपनगरी गाड्या कधी वेळेवर धावणार आहेत की नाहीत, असा संतप्त प्रश्न प्रवासी विचारत आहेत.
Source-Maharashtra Times

 

पश्चिम रेल्वेवर ‘जम्बो ब्लॉक’

पश्चिम रेल्वेवर ‘जम्बो ब्लॉक’

रेल्वे रुळांच्या दुरुस्ती व देखभालीसाठी रविवारी पश्चिम रेल्वे मार्गावरील बोरिवली व नायगाव स्थानकांदरम्यान जम्बो ब्लॉक घेतला जाणार आहे. मध्य रेल्वेवर मुलुंड ते माटुंगादरम्यान जलद मार्गावर मेगा ब्लॉक घेण्यात येणार आहे.

पश्चिम रेल्वे

कुठे : बोरिवली ते नायगाव अप व डाऊन जलद मार्गावर

कधी : सकाळी ११ ते दुपारी ३ वा.

परिणाम : ब्लॉकदरम्यान अप व डाऊन जलद गाडय़ा बोरिवली ते नायगावदरम्यान धिम्या मार्गावरून चालवण्यात येतील.

मध्य रेल्वेवर ‘मेगाब्लॉक’

कुठे :  मुलुंड ते माटुंगादरम्यान अप जलद मार्गावर

कधी : सकाळी ११.२० ते सायंकाळी ४.४० वा.

परिणाम : ठाणे येथून रवाना होणाऱ्या जलद मार्गावरील सर्व गाडय़ा मुलुंड ते परळदरम्यान धिम्या मार्गावरून धावतील. तर सकाळी १०.०८ ते दुपारी २.४२ या दरम्यान, छत्रपती शिवाजी महाराज टर्मिनस येथून सुटणाऱ्या जलद गाडय़ा घाटकोपर, विक्रोळी, भांडुप व मुलुंड स्थानकांव्यतिरिक्त सर्व स्थानकांवरती थांबतील.

Source-Lok Satta

भीड़ बढ़ते ही छठ पूजा के लिए चली स्पेशल ट्रेन

भीड़ बढ़ते ही छठ पूजा के लिए चली स्पेशल ट्रेन

मुरादाबाद : छठ पूजा में घर जाने वालों की भीड़ को देखते हुए उत्तर रेलवे प्रशासन ने आनन फानन में दिल्ली से गोरखपुर के लिए शनिवार की मध्य रात्रि में स्पेशल ट्रेन का संचालन शुरू कर दिया। नियमित व पूजा स्पेशल ट्रेनों में पैर रखने तक की जगह नहीं मिल पा रही हैं। वहीं तत्काल टिकट लेने के लिए भी शनिवार की सुबह बुकिंग काउंटर पर काफी भीड़ लगी रही।

शनिवार को बिहार, झारखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश से होकर गुजरने वाली सभी ट्रेनों और चार स्पेशल ट्रेनों में काफी भीड़ रही। सप्तक्रांति एक्सप्रेस, श्रमजीवी पंजाब मेल, सियालदह एक्सप्रेस जैसी ट्रेनों में भीड़ के कारण टीटीई चेकिंग नहीं कर पाए। एसी कोच की गैलरी और स्लीपर के शौचालय तक में यात्री बैठे हुए थे। जबकि रेलवे प्रशासन कई ट्रेनों में अतिरिक्त कोच भी लगाए हैं।

दिल्ली स्टेशन और बीच के अन्य स्टेशनों पर बढ़ती भीड़ को देखते हुए उत्तर रेलवे मुख्यालय ने दिल्ली से गोरखपुर के लिए मध्य रात्रि को स्पेशल ट्रेन चलाई। यह ट्रेन रविवार तड़के मुरादाबाद पहुंची। यह ट्रेन बरेली, शाहजहांपुर, सीतापुर, होकर गोरखपुर जाएगी। यह ट्रेन रविवार को दिल्ली से चलेगी।

अपर मंडल रेल प्रबंधक संजीव मिश्रा ने बताया कि यात्रियों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए सभी प्रमुख स्टेशनों पर अधिकारियों को तैनात कर दिया गया है।

Source-Jagran

Humpback Road railway crossing closed to traffic

Humpback Road railway crossing closed to traffic

Langford has closed access to Humpback Road at the E&N Railway crossing.

Emergency vehicles will be able to use the road, but general traffic will not.

The City of Langford said the closing was imposed by the Island Corridor Foundation as a condition of the E&N crossing installed at the new West Shore Parkway.

The 3.5-kilometre, $22.5-million parkway opened this month. It connects the Trans-Canada Highway and Sooke Road, providing a north-south connection between the two major arteries. The road includes roundabout intersections, cycling lanes, wide sidewalks, transit stops and artificial turf medians.

Irwin Road was extended in July to provide a connection between Humpback Road and West Shore Parkway.
 Source-Times Colonist
 

कोच इंडीकेटर की खराबी से प्लेटफार्म पर भगदड़

कोच इंडीकेटर की खराबी से प्लेटफार्म पर भगदड़

जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : शनिवार को अलीगढ़ रेलवे स्टेशन पर कोच इंडीकेटर की खराबी से भगदड़ मच गई। भीड़ को संभालने में आरपीएफ जुटी रही, लेकिन जीआरपी इस व्यवस्था से नदारद रही। इस अव्यवस्था में कुछ की ट्रेन छूटी तो कुछ मामूली रूप से चोटिल भी हुए। शुक्र रहा कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ।

अलीगढ़ स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या चार पर दोपहर 2:25 पर गोमती एक्सप्रेस रुकी। कोच इंडीकेटर पूरी तरह बंद थे। ट्रेन के आने के बाद अव्यवस्थित खड़े यात्री कोच में चढ़ने को भागदौड़ करने लगे। आरपीएफ इंस्पेक्टर नवल किशोर नियंत्रित करने के लिए माइक लेकर यात्रियों को समझाते रहे। अन्य कोई स्थानीय रेल अफसर या कर्मचारी प्लेटफार्म पर इन अव्यवस्थाओं के बीच नहीं दिखा। प्लेटफार्म तीन पर खड़ी सीमांचल एक्सप्रेस व प्लेटफार्म दो पर करीब 3:30 बजे रुकी बरेली-दादर (लोकमान्य तिलक) एक्सप्रेस के कोच इंडीकेटर का भी यही हाल था। यहां कोच इंडीकेटर तो कार्य कर रहे थे, लेकिन गलत सूचना प्रदर्शित कर रहे थे। अव्यवस्थाओं से व्यथित हो कुछ यात्रियों ने हंगामा करते हुए स्टेशन मास्टर जीके शर्मा से शिकायत की। मामला स्टेशन अधीक्षक आरके पाठक के पास तक पहुंचा तो उन्होंने सिग्नल विभाग व अन्य संबंधित रेल अफसर कर्मचारियों को बुला लिया। स्टेशन अधीक्षक ने बताया कि पुराने प्लेटफार्म पर सभी कोच इंडीकेटर बदले जाने हैं। कई बार पत्राचार हो चुका है। रिपेय¨रग के लिए सिग्नल विभाग ने संबंधित कंपनी को बोला है लेकिन उसने टेंडर खत्म होने की बात कहकर हाथ खड़े कर दिए हैं।

डीआरएम के आदेश भी हवा में

उत्तर मध्य रेलवे इलाहाबाद के मंडल रेल प्रबंधक एसके पंकज के निरीक्षण को अभी दस दिन भी नहीं हुए। निरीक्षण में उन्होंने कोच इंडीकेटर को ठीक कराने व प्लेटफार्म नंबर दो पर पैदल ओवर ब्रिज के नीचे रेलवे ट्रैक पर बह रहे पानी को रोकने के निर्देश दिए, लेकिन उनके निरीक्षण के बाद से आजतक स्थिति जस की तस है।

Source- Jagran

एफओबी पर यात्रियों और जनता के लिए होगी अलग लेन

एफओबी पर यात्रियों और जनता के लिए होगी अलग लेन

जागरण संवाददाता, मुरादाबाद : रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्वनी लोहानी के निरीक्षण के उपरांत केजीके एफओबी के निर्माण ने तेजी पकड़ ली है। केजीके कालेज की ओर जाने वाली जनता को जनवरी से रेल लाइन पार करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। तब तक नया फुट ओवर ब्रिज चालू हो जाएगा। रेल प्रशासन ने इसके लिए तेजी से प्रयास शुरू कर दिए हैं। नए फुट ओवरब्रिज में जनता व यात्रियों के आने व जाने के लिए अलग लेन होगी।

उत्तर रेलवे मुख्यालय ने दो साल पहले केजीके कालेज की ओर जाने वाले फुट ओवरब्रिज को जर्जर घोषित कर दिया था। इसे बंद करने के आदेश दे दिए थे। मंडल रेल प्रशासन ने नये एफओबी बनाने को ब्रिज वर्कशॉप को ढांचा बनाने का आदेश दिया था। इसी के साथ मंडल रेल प्रशासन ने ढांचा खड़ा करने के लिए नींव तैयार कर लिया था। मुबंई के एफओबी पर भगदड़ के बाद रेलवे प्रशासन सक्रिय हुआ और ब्रिज वर्कशॉप ने एफओबी का ढांचा मुरादाबाद को भेज दिया है। ढांचा मिलने के बाद रेल प्रशासन ने भी निर्माण कार्य तेजी से शुरू कर दिया है। पिलर आदि खड़ा करने का काम पूरा कर लिया है। अब रेल लाइन की उपर ढांचा रखने की तैयारी किया जा रहा है। एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर जाने के लिए अलग लेन होगा। नए एफओबी के साथ ही स्वचालित सीढ़ी व लिफ्ट लगाई जानी है। इससे दिव्यांग व बुजुर्ग यात्री को एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर आसानी से जा सकेंगे।

मंडल रेल प्रबंधक अजय कुमार सिंघल ने बताया कि एफओबी के निर्माण कार्य तेजी से कराया जा रहा है। जनवरी तक एफओबी का निर्माण कार्य पूरा कर चालू करने का लक्ष्य है। उसके बाद स्वचालित सीढ़ी आदि लगाई जाएगी।

 
Source- Jagran 

New high-speed trains carry 460,000 passengers on Beijing-Shanghai line in first month

New high-speed trains carry 460,000 passengers on Beijing-Shanghai line in first month

BEIJING, Oct. 21 (Xinhua) -- The new high-speed trains, Fuxing, carried 460,000 passengers between Beijing and Shanghai in their first full month of operations at maximum speed, Beijing railway bureau said Saturday.

On Sept. 21, China increased the maximum speed of Fuxing trains on the Beijing-Shanghai high-speed railway to 350 kilometers per hour.

Fuxing trains are also used on Beijing-Guangzhou high-speed railway and Beijing-Tianjin intercity rail, but they are allowed to run at 300 kph only for the time being.

Fuxing trains on the Beijing-Guangzhou line reached 100 percent capacity, with 420,000 passengers carried.

The Fuxing, literally meaning Rejuvenation, became the world's fastest train service some six years after speeds were reduced to 300 km per hour on the Beijing-Shanghai line.

China has the world's longest high-speed rail network, with 22,000 km currently in operation. About one-third of the country's high-speed railways were designed to run at a speed of 350 km per hour.

Source-Xinhuanet

रेलवे ने मरम्मत की जरुरत वाले देश के सभी रेल पुलों की समीक्षा के दिए आदेश

रेलवे ने मरम्मत की जरुरत वाले देश के सभी रेल पुलों की समीक्षा के दिए आदेश

रेलवे बोर्ड ने देश में मरम्मत की जरुरत वाले सभी रेल पुलों की समीक्षा का आदेश दिया है। बोर्डने पाया है कि इस तरह के 275 पुलों में केवल 23 में ही गति पाबंदी है। बोर्ड ने इससे पहले पुलों की स्थिति के बारे में विवरण मांगा था।
विवरण में पाया गया था कि ट्रेनें अपनी सामान्य रफ्तार से 252 जीर्णशीर्ण पुलों को पार करती है, जिससे सुरक्षा का खतरा है। बोर्ड ने अपने आदेश में कहा, सीबीई (मुख्य पुल इंजीनियर) को अपने संबंधित रेलवे में खासकर ओआरएन-1 और ओआरएन-2 रेटिंग निर्दिष्ट सभी पुलों के संबंध में स्थिति की समीक्षा करनी चाहिए।

सीबीई को प्राथमिकता के आधार पर इनकी कार्ययोजना के लिए तैयार होना चाहिए। रेलवे अपने पुलों की तीन रेटिंग- संपूर्ण रेटिंग नंबर (ओआरएन), 1,2,3 करता है। इसमें ओआरएन-एक रेटिंग पुलों में तुरंत निर्माण या उसके बदले में पुल की मांग का संकेतक है।

ओआरएन-2 रेटिंग के तहत कार्यक्रम के आधार पर पुनर्निर्माण होना चाहिए जबकि ओआरएन-3 पुलों को खास मरम्मत की जरूरत होती है। रेलवे बोर्ड ने कहा है कि कुछ जोनल रेलवे में लंबे समय समय से बड़ी संख्या में मौजूदा पुलों के पुनरुद्धार की जरूरत है। मध्य रेल में इस तरह के 61 पुल, पूर्वमध्य रेल में 63, दक्षिण मध्य रेल में 41 और पश्चिमी रेल में ऐसे 42 पुलों का पुनर्निर्माण लंबित है।
Source-Amaru Jala

No mega block on Harbour line today

No mega block on Harbour line today

MUMBAI: Suburban train services on Western Railway (WR) and Central Railway's (CR) main line will be affected due to maintenance block on Sunday.

 CR spokesperson said, "Maintenance block will be held on CSMT-bound fast corridor between Mulund and Matunga from 11.20 am to 4.20 pm. There will be no mega block on CR's harbour and trans harbour line." On WR, a day block will be taken from 11 am to 3 pm on Up and Down fast lines between Borivali and Naigaon stations.
Source-Times Of India

Building on platform 6 side of Bhubaneswar station to be ready by November

Building on platform 6 side of Bhubaneswar station to be ready by November

BHUBANESWAR: A new station building, which is under construction on platform no-6 of the city railway station, will be ready by November. The East Coast Railway (ECoR) is geared up to inaugurate the building within a few days.

It will accommodate the crowd coming from old station bazaar and Cuttack-Road side of the station. It will have facilities like waiting hall, enquiry counter, booking halls, parking lots and other security features including installation of CCTV cameras.

Platform number 1 is the main entrance of the A1 category station. It has station building with other required facilities. But the platform 6 has no building and other facilities like parking and proper booking halls.

Due to extension of platform number 6 during Nabakalebar festival in 2015, the station building on Old Station Bazaar side had been demolished. The platform 6 side entrance remained open since then. Later the ECoR decided to build a station building on this side to provide facilities to the passengers.

The building work started in August last year. Estimated cost of the project is Rs 1.7 crore, ECoR sources said.
 
A senior railway officer said the platform 6 side will have all the facilities like platform 1 side in a phased manner. Unauthorized entry into the station will be stopped after the commissioning of the building. Baggage scanner and other facilities will also be made available on the side, he added.

 
"We are continuously trying to bring about improvements in services to passengers both at railway stations and on trains. We are in touch with our passengers through a regular feedback mechanism and working on deficiencies pointed out by them," said Brij Mohan Agarwal, divisional railway manager of Khurda Road.

 Agarwal said lift services will be available at all the six platforms of the station. Senior citizens, patients and persons with disabilities will get benefit out of the service, he added.
Source- Times Of India