Sep 13, 2019

तेजस एक्सप्रेस का टाइम टेबल जारी, इस ट्रेन में मिलेंगी प्लेन जैसी सुविधाएं

तेजस एक्सप्रेस का टाइम टेबल जारी, इस ट्रेन में मिलेंगी प्लेन जैसी सुविधाएं



देश की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस के रूट और टाइमिंग का ऐलान कर दिया गया है. यह प्राइवेट ट्रेन जल्द ही लखनऊ और दिल्ली के बीच पटरी पर दौड़ेगी. इस ट्रेन को चलाने का जिम्मा IRCTC को मिला है. ट्रेन में यात्रियों को एक तरह से फ्लाइट की तरह सुविधाएं मिलेंगी.
दरअसल इस ट्रेन में यात्रियों का खास ध्यान रखने के लिए हर दिन IRCTC की ओर से नए ऐलान किए जा रहे हैं. इस ट्रेन में यात्रियों को आराम करने के लिए खास तरह का लाउंज जैसी तमाम सुविधाएं मुफ्त में मिलेंगी. इसके अलावा यात्री ट्रेन में मीटिंग के लिए एग्जीक्यूटिव लाउंज बुक करा सकते हैं.
तेजस एक्सप्रेस में यात्रियों की सुरक्षा का खासा ध्यान रखा जाएगा. IRCTC ने इस ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों को 25 लाख रुपये का फ्री में बीमा भी देने की घोषणा की है.
यात्रियों को लखनऊ जंक्शन में रिटायरिंग रूम की सुविधा भी मिलेगी. मिल रही जानकारी के मुताबिक तेजस एक्सप्रेस में कोई कोटा नहीं होगा. इसमें कोई विशेष पास, छूट या ड्यूटी पास लागू नहीं होगा. IRCTC के मुताबिक 5 साल से ऊपर के बच्चों का पूरा किराया लगेगा. IRCTC के मुताबिक, एग्जीक्यूटिव क्लास और एसी चेयर कार में विदेशी पर्यटकों के लिए 5-5 सीटें आरक्षित हैं.
इस बीच IRCTC ने तेजस ट्रेन की समय सारिणी जारी कर दी है. इसमें सफर करने के लिए यात्रियों के खासी जेब ढीली करनी पड़ सकती है. क्योंकि विमान के तरह ही इसका डायनेमिक किराया होगा. तेजस एक्सप्रेस महज 6 घंटे 15 मिनट में दिल्ली-लखनऊ के बीच की दूरी तय करेगी.
इसमें सफर करने के लिए यात्रियों को रेलवे आरक्षण केंद्र पर बुकिंग की सुविधा नहीं मिलेगी. तेजस की बुकिंग IRCTC की वेबसाइट के साथ ही मोबाइल एप आईआरसीटीसी रेल कनेक्ट पर उपलब्ध होगी. इसके अलावा यात्री पेटीएम, फोन पे, मेक माई ट्रिप, गूगल इबीबो, रेल यात्री पर भी ऑनलाइन टिकट बुकिंग सुविधा मिलेगी.
प्राइवेट तेजस एक्सप्रेस सुबह 6.10 बजे लखनऊ से चलेगी और दोपहर 12.25 बजे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचेगी. जबकि तेजस एक्सप्रेस शाम 4.30 बजे नई दिल्ली से रवाना होगी और रात 10.45 बजे लखनऊ स्टेशन पहुंचेगी.

लखनऊ से चलकर यह सुबह 7.20 बजे कानपुर सेंट्रल और 11.43 बजे गाजियाबाद रेलवे स्टेशन पहुंचेगी. 11.45 बजे गाजियाबाद से स्टेशन से चलकर दोपहर 12.25 बजे नई दिल्ली स्टेशन पहुंचेगी.
वापसी में यह ट्रेन नई दिल्ली से शाम 4.30 बजे रवाना होगी, 5.10 बजे गाजियाबाद रेलवे स्टेशन पहुंचेगी. रात 21.30 बजे कानपुर रेलवे स्टेशन और देर रात 22.45 बजे लखनऊ स्टेशन पहुंचेगी.
Source – Aaj Tak 

400 रेलवे स्टेशनों पर जल्द मिलेगी कुल्हड़ों में चाय, जानें- इसके पीछे क्या है मकसद

400 रेलवे स्टेशनों पर जल्द मिलेगी कुल्हड़ों में चाय, जानें- इसके पीछे क्या है मकसद





देशभर के 400 बड़े रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को जल्द ही कुल्हड़ों में चाय पीने को मिलेगी। इसके अलावा उन्हें नाश्ता और खाना भी मिट्टी से बने बर्तनों में मिलेगा। ऐसा भारत को एक बार इस्तेमाल होने वाली प्लास्टिक से मुक्त बनाने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इच्छा मुताबिक किया जा रहा है।
खादी एवं ग्रामीण उद्योग आयोग (केवीआइसी) के अध्यक्ष विनय कुमार सक्सेना ने बताया, ‘इस साल हम 30 हजार इलेक्टि्रक चाक वितरित कर रहे हैं जिनसे प्रतिदिन दो करोड़ कुल्हड़ और मिट्टी के अन्य बर्तन बनाए जा सकते हैं।’ उन्होंने कहा कि यह प्रक्रिया 15 दिन में शुरू हो जानी चाहिए। रेल मंत्रालय पहले ही अपने सभी प्रमुख मुख्य वाणिज्य प्रबंधकों और आइआरसीटीसी के सीएमडी को पत्र लिखकर 400 बड़े स्टेशनों पर पर्यावरण अनुकूल और स्थानीय स्तर पर निर्मित मिट्टी के बने कुल्हड़, ग्लास और प्लेटों के उपयोग के निर्देश जारी कर चुका है।
रेलवे पहले से ही उत्तर प्रदेश के वाराणसी और रायबरेली रेलवे स्टेशनों पर मिट्टी के बर्तनों का इस्तेमाल कर रहा है। इन दोनों स्टेशनों पर इनकी सफलता को देखकर ही सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री नितिन गडकरी ने रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखा था और कुम्हारों की आय बढ़ाने के लिए अन्य स्टेशनों पर भी इसे अपनाने का आग्रह किया था।
रेल मंत्रालय के आंतरिक सर्वे में भी दोनों रेलवे स्टेशनों पर मिट्टी के बर्तनों के इस्तेमाल पर अच्छी प्रतिक्रिया मिली और वहां प्लास्टिक का खतरा भी कम हुआ, लिहाजा रेल मंत्री ने प्रसन्नता जाहिर की।
Source – Jagran 

रेलवे स्टेशनों पर यह काम करने से आपका फोन हो जाएगा रिचार्ज

रेलवे स्टेशनों पर यह काम करने से आपका फोन हो जाएगा रिचार्ज

एक बार इस्तेमाल होने वाली प्लास्टिक का प्रयोग छोड़ने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल को आगे बढ़ाते हुए रेलवे ऐसे यात्रियों के फोन को रिचार्ज करेगा जो स्टेशनों पर प्लास्टिक बोतल नष्ट करने वाली मशीनों का इस्तेमाल करेंगे. प्रधानमंत्री ने स्वतंत्रता दिवस पर अपने संबोधन में राष्ट्र से एक बार इस्तेमाल होने वाली प्लास्टिक का उपयोग बंद करने और प्लास्टिक की पानी बोतलों का विकल्प तलाशने की अपील की थी.

रेलवे ने निर्देश जारी किया है कि इस साल दो अक्टूबर से उसके परिसरों में एक बार प्रयोग में लाई जाने वाली प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं होगा. रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वीके यादव ने कहा है कि स्टेशनों पर बोतलों को नष्ट करने वाली 400 मशीनें लगाई जाएंगी. इसका इस्तेमाल करने वाले यात्रियों को मशीन में अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा और इसके बाद उनका मोबाइल फोन रिचार्ज हो जाएगा. हालांकि, रिचार्ज के विवरण फिलहाल उपलब्ध नहीं हैं.
उन्होंने कहा कि वर्तमान में 128 स्टेशनों पर बोतल नष्ट करने वाली 160 मशीनें लगाई गई हैं. उन्होंने कहा कि रेलवे कर्मचारियों को स्टेशनों पर इस्तेमाल हो चुकी प्लास्टिक बोतलों को जमा करने और उन्हें पुनर्चक्रण के लिए भेजने का निर्देश दिया है. इससे पहले, मंत्रालय ने सभी विक्रेताओं और कर्मचारियों को प्लास्टिक का इस्तेमाल घटाने के लिए फिर इस्तेमाल होने वाले बैग के प्रयोग का निर्देश दिया था.
Source – NDTV

10 नवंबर से सात फरवरी तक देहरादून रेलवे स्टेशन से ठप हो सकता है ट्रेनों का संचालन

10 नवंबर से सात फरवरी तक देहरादून रेलवे स्टेशन से ठप हो सकता है ट्रेनों का संचालन



देहरादून में प्लेटफार्म विस्तारीकरण कार्य के चलते दून से 10 नवंबर से सात फरवरी 2020 तक ट्रेनों का संचालन ठप हो सकता है। हरिद्वार से संचालित होने वाली कुछ गाड़ियों पर भी इसका असर पड़ेगा। ठेकेदार ने अधिकारियों के मार्फत ट्रैफिक ब्लॉक का प्रस्तावित शेड्यूल बनाकर रेलवे बोर्ड को भेज दिया है।





दून स्टेशन पर अभी तक चार प्लेटफार्म है। स्टेशन विस्तारीकरण के तहत सिंघल मंडी की तरफ से पांच नंबर प्लेटफार्म का ट्रैक तैयार हो रहा है। पांच नंबर और चार नंबर प्लेटफार्म आमने-सामने होंगे।



करीब दो साल पहले प्लेटफार्म का काम शुरू हुआ था। दिसंबर-2018 से यह काम अधूरा पड़ा हुआ था। नए ठेकेदार को टेंडर मिलने पर अब कार्य शुरू हो चुका है। नया ट्रैक तैयार करने, मुख्य ट्रैक से उसकी कनेक्टिविटी और यार्ड का विस्तार आदि कार्यों को पूरा करने के लिए ट्रेनों का संचालन बंद करना पड़ेगा।





इसके लिए ठेकेदार की ओर से 10 नवंबर 2019 से सात फरवरी 2020 तक का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड को भेज दिया गया है। बताया जा रहा है कि प्रस्तावित शेड्यूल के मुताबिक, देहरादून से संचालित होने वाली कुछ ट्रेनों को हरिद्वार और नजीबाबाद से चलाया जाएगा।



जबकि कुछ ट्रेनों को पूरी तरह रद्द रखने का भी प्रस्ताव है। एडिशनल स्टेशन सुप्रीटेंडेंट सीताराम सोनकर ने बताया कि ठेकेदार ने अभी प्रस्ताव भेजा है। उच्चाधिकारियों के निर्देशानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। ट्रैफिक ब्लॉक का कार्यक्रम फाइनल होते ही इसके बारे में यात्रियों को विभिन्न माध्यमों से सूचित किया जाएगा।



Source – Amar ujala

INDIAN RAILWAY DEPARTMENTAL EXAMINATION GUIDE: INDIAN RAILWAY DEPARTMENTAL EXAMINATION GUIDE

INDIAN RAILWAY DEPARTMENTAL EXAMINATION GUIDE: INDIAN RAILWAY DEPARTMENTAL EXAMINATION GUIDE: STUDY MATERIAL OF INDIAN RAILWAY INDIAN RAILWAY QUESTION BANK GUIDE FOR - AOM EXAM ( LDCE GROUP B) Abbreviations & Code Center For ...

Translate in your language

M 1

Followers